राम मंदिर का शिलान्यास करेंगे हमारे देश के ये ख़ास व्यक्ति, नाम आया सामने – बदलेगा नक्शा

अयोध्या में राममंदिर के शिलान्यास के शुभ मुहूर्त का एलान होने वाला है. आज श्रीरामंदिर तीर्थक्षेत्र ट्रस्ट के सदस्य अयोध्या में जुटे और मंदिर निर्माण को लेकर चर्चा की.

इस चर्चा में सबसे अहम मुद्दा शिलान्यास की तारीख तय करने को लेकर था. चर्चा ये है के 29 जुलाई या 5 अगस्त को शिलान्यास की तारीख पर मुहर लग सकती है.

साथ ही तमाम संत शिलान्यास का शुभकार्य पीएम मोदी के हाथों होने की इच्छा जताते रहे हैं. इस बीच बड़ी खबर आ रही है अयोध्या से जहां राम जन्मभूमि ट्रस्ट की बैठक खत्म हो गई है.

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की शनिवार को बैठक हुई. बैठक में शिलान्यास की तारीख पर चर्चा हुई. प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) को ट्र्स्ट की तरफ से 3 अगस्त और 5 अगस्त की तारीख भेजी गई है. शिलान्यास की तारीख पर आखिरी फैसला प्रधानमंत्री कार्यालय करेगा.

इसके अलावा बैठक में मंदिर की ऊंचाई और निर्माण की व्यवस्थाओं पर भी चर्चा हुई. ये बैठक अयोध्या सर्किट हाउस में दोपहर तीन बजे शुरू हुई. करीब ढाई घंटे तक ट्रस्ट की बैठक चली.

बदलेगा मंदिर का नक्शा

बैठक में मंदिर का नक्शा बदलने पर भी फैसला हुआ. अब मंदिर में 3 की जगह 5 गुम्बद होंगे. मंदिर की ऊंचाई भी प्रस्तावित नक्शे से अब ज्यादा होगी.

बैठक के बाद ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने कहा कि स्थिति सामान्य हो जाने के बाद फंड एकत्र किया जाएगा. हमें लगता है कि 3-3.5 वर्षों के अंदर मंदिर का निर्माण पूरा हो जाएगा.

बैठक में मंदिर निर्माण समिति के चेयरमैन नृपेंद्र मिश्रा भी शामिल रहे. दरअसल, नृपेंद्र मिश्रा के साथ बड़े इंजीनियरों का एक दल अयोध्या में है, जो मंदिर निर्माण की बारीकियों को देखेगा. राम मंदिर का मॉडल तैयार करने वाले चंद्रकांत सोमपुरा के अलावा उनके बेटे निखिल सोमपुरा भी अयोध्या में हैं.

 

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *